Youtube पर Free Video देखना होगा बंद! अब यूजर्स को देने पड़ सकते हैं अलग से पैसे

यूट्यूब एक वीडियो शेयरिंग प्लेटफार्म है जिसमें हम अपनी वीडियो बनाकर अपलोड कर सकते हैं यूट्यूब सोशल मीडिया की दुनिया का सबसे पॉपुलर प्लेटफॉर्म है जिस पर यूजर वीडियो के फॉर्म में कंटेंट देखा है इतना ही नहीं यूट्यूब पर वीडियो क्रिएट करके वीडियो क्रिएटर काफी अच्छा पैसा कमा रहे हैं यूट्यूब में लाखों करोड़ों लोगों की जिंदगी बदली है लेकिन कुछ ऐसे लोग हैं जो यूट्यूब के बनाई गए सिस्टम के खिलाफ जाते हैं यूट्यूब के एड्स को ब्लॉक करने की कोशिश करते हैं आपकी जानकारी के लिए बता दें युटुब एड्स के जरिए ही हमें अपनी इनकम से कुछ रेवेन्यू शेयर करता है लेकिन कुछ लोग यूट्यूब के नियमों का उल्लंघन करते हैं और अलग-अलग तरह के ऐड ब्लॉक्स का इस्तेमाल करते हैं ताकि यूट्यूब के ऐड को बंद किया जा सके जो की यूट्यूब के रूल रेगुलेशन के खिलाफ है इसीलिए युटुब ने ऐसे लोगों से निपटने के लिए यूट्यूब पर एक नया नियम लागू कर दिया है यह नियम यूट्यूब में पिछले साल ही बना दिया था लेकिन इस साल इस नियम को पूरी तरीके से यूट्यूब पर लागू कर दिया जाएगा चलिए आपको इसके बारे में विस्तार से बताते हैं

YouTube Ad Blocker क्या है

आपकी जानकारी के लिए बता दें यूट्यूब पर जो भी वीडियो देखे जाते हैं उन पर एक ऐड चलता है जो कि किसी कंपनी द्वारा या किसी बड़ी संस्थान के द्वारा चलाया जाता है यूट्यूब अपने प्लेटफार्म पर गूगल एड्स की मदद से एड चलता है जिसमें युटुब जिस भी वीडियो पर Ad आता है उसे वीडियो के ऐड से आधार एवेन्यू खुद रख लेता है और आधार एवेन्यू उस क्रिएटर को दे देता है जिसने वह वीडियो बनाई है यूट्यूब का यही यह नियम सभी वीडियो पर लागू होता है लेकिन कुछ लोग यूट्यूब पर आने वाले एड से परेशान रहते हैं और यूट्यूब के एड्स को बंद करने के लिए अड ब्लॉकर का इस्तेमाल करते हैं अड ब्लॉकर एक तरह का जैमर होता है जो की यूट्यूब की वीडियो से एड को बंद कर देता है हालांकि कुछ अप सही से वर्क नहीं करते लेकिन कुछ ऐसे ऐड ब्लॉक्स हैं जिनसे यह किया जा सकता है लेकिन अब यूट्यूब पर ऐड को ब्लॉक करने वाले यूजर्स से निपने के लिए त्यार है इसी लिए यूट्यूब एक नया नियम लागू करने वाला है

Ad Blocker यूज करने वालो होगी परेशानी

यूट्यूब के इस नए नियम के अनुसार जो भी यूजर यूट्यूब वीडियो पर ऐड ब्लॉकर का इस्तेमाल करेगा उनकी वीडियो की स्पीड को काफी ज्यादा काम कर दिया जाएगा जिसकी वजह से वह यूट्यूब पर कोई भी वीडियो सही से नहीं देख पाएंगे और अगर उसे यूजर को यूट्यूब बिना एड के देखना है तो इसके लिए उसके पास एड ब्लॉक करने के लिए भुगतान करके एड ब्लॉक करने का ऑप्शन रहेगा या फिर यूट्यूब का प्रीमियम प्लान ज्वाइन करना पड़ेगा इसके बाद उस यूजर को यूट्यूब पर एड्स दिखाई नहीं देंगे आपकी जानकारी के लिए बता दें किसी भी तरह के अड ब्लॉकर का इस्तेमाल करके यूट्यूब की वीडियो पर ऐड बंद करना यूट्यूब की नीतियों का उल्लंघन करना होता है

यूट्यूब Ad Blocker नियम कैसे काम करेगे

यूट्यूब के नए नियम के अनुसार यूट्यूब पर एक पॉप अप यूजर को दिया जाएगा जिसमें अगर यूजर अड ब्लॉकर का इस्तेमाल करता है तो उसके अकाउंट पर चलने वाली यूट्यूब वीडियो की स्पीड को काफी हद तक स्लो कर दिया जाएगा इसके साथ ही अगर कोई यूजर यूट्यूब पर ऐड को बंद करना चाहता है तो यूट्यूब से प्रीमियम सब्सक्रिप्शन लेने का ऑप्शन देगा जिससे यूजर यूट्यूब को एक मंथली पेमेंट देकर एड्स को ब्लॉक कर सकता है

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top